For Phone Puja Booking, call us at +91 8448288272 ( Mon to Fri 9:30 AM to 6:30 PM)
बैद्यनाथ धाम ज्योतिर्लिंग :

बैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग मंदिर को ही बाबा बैद्यनाथ धाम भी कहा जाता है।इस जगह को शिव के सबसे पवित्र निवास स्थान और 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक माना जाता है। यह भारत के झारखंड राज्य के देवघर में स्थित है। इस मंदिर परिसर है बाबा बैद्यनाथ का ज्योतिर्लिंग स्थापित है।मंदिर परिसर में बैद्यनाथ धाम ज्योतिर्लिंग के अलावा 21 अन्य मंदिर भी हैं।

पूजा का महत्त्व:

भगवान शिव के पूजा में बेलपत्र चढ़ाना सर्वश्रेठ और शुभ माना गया है। तीन पत्तियों का संगम, शिव की तीन आंखों के अलावा उनके त्रिशूल का भी प्रतीक है, जो पिछले तीन जन्मों के पापों को नष्ट करने के वाला माना जाता है। हालाँकि, वृक्ष के बेलपत्र तोड़ने का भी एक समय होता हैं। कहा जाता हैं कि महादेव सौ कमल चढ़ाने से जितने प्रसन्न होते हैं, उतना ही एक नीलकमल चढ़ाने पर होते हैं और एक हजार नीलकमल के बराबर एक बेलपत्र होता है। इसीलिए भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए बेलपत्र चढ़ाना चाहिए।

पूजा कैसे होगी?

हमारे द्वारा नियुक्त पुजारी बैद्यनाथ धाम मंदिर में बेलपत्र द्वारा स्थापित विधी से पूजा सम्पन्न करते है।

पूजा सामग्री:

बेलपत्र, जल, फूल।

पूजा अवधि:

नित्य, 10 मिनट

पूजा करने वाले पंडितों की संख्या:
  • पंडित मोती राम मिश्रा 35 वर्षों के अनुभव के साथ।

  • पंडित ललन मिश्रा 10 वर्षों के अनुभव के साथ।

डिसक्लेमर : हम किसी भी मंदिर के एजेंट, सहयोगी या प्रतिनिधि नहीं हैं। हम पूरे देश में फैले पंडितों के अपने नेटवर्क के माध्यम से सेवाएं प्रदान करवाते हैं

इस पूजा को बुकिंग के 7 दिनों के अंदर शुरु करवाया जाएगा।

Shri. H.Ramadas Rao

Shri. H.Ramadas Rao

Shri. H.Ramadas Rao

Consultation Charge

Regular price Rs. 2,100.00 ONLY FOR LIMITED TIME!

 Experience

35 Years

 Languages Known

English, Kannada, Tulu, Hindi

 City

Mangalore

 Problem Speciality

Wealth, Marriage, Health and Children

 Profile

Shri. H.Ramadas Rao was born in a traditional Madhva Brahmin family and belong to Udupi Sode Mutt ( One of the 8 mutts in Udupi to make Poojas to Lord Krishna ).From age of 12-13 years, he developed interest in Palmistry and at the age of 23-24, he learnt Palmistry.Then in 1983, he got interest in Jyotish Shastra. So he got the Blessings of Mantralaya Shri Raghavendra Swami Ji and started learning Astrology. After that It did not stop. In 1990, he  got a spiritual Guru,Shri Sripathy Achar from Ambalapadi,Udupi who initiated him a Devi Mantra and in 1992, the Sadhana got completed.After that he learned by himself more in Parashari Astrology and then in 2001, he started learning Jaimini Astrology and in 2004, Nadi Astrology from Shri R.G.Rao.Now he is doing consultations mostly in Nadi Astrology.

He has written articles in Jyotish Digest back in 2004,2005 etc. He also wrote an article to Express Star Teller Magazine.

In his FB page, he has written mostly Nadi based articles and a research article based on Nadi Astrology. He has many clients from all over the world and also from many parts of India.

 Speciality

Nadi Astrology studied through Shri R.G.Rao

 Occupation 

Retired from Kuwait National Petroleum Company,Kuwait.

 What the Consultation includes:

  1. After booking , you will get a call from our Astrologer within 3 business days.
  2. The maximum call duration is 30 min. Within this time Astrologer will analyse your problem and may suggest a solution to the problem.

WHY CHOOSE US

Top Astrologers
Top Astrologers
Confidentional
100% Confidentional
Money back Guarantee
Money back Guarantee