सालों बाद शिव प्रिय सावन माह में बन रहा है अनोखा संयोग, जानिए क्यों है ख़ास..?

इस बार, भगवन शंकर का प्रिय माह – “सावन” बेहद ही खास माना जा रहा है जानिए इस विशेषता के पीछे का कारण:

सावन की शुरुआत का विशेष योग:

शिव भक्तों के लिए सावन का महीने सर्वप्रिय होता है क्योंकि इस समय भोलेनाथ की आराधना से विशेष फल प्राप्त होता है कई वर्षों बाद ऐसा संयोग बन रहा है कि सावन की शुरुआत, सावन के सोमवार से ही हो रही है


बन रहा है 5 सोमवार का अद्भुद संयोग:

इस बार के 5 दिन सावन के सोमवार भी भक्तों के लिए बेहद खास मने जा रहे हैं पहला सावन का सोमवार 10 जुलाई को है, दूसरा सोमवार 17 जुलाई, तीसरा सावन का सोमवार 24 जुलाई, चौथा सोमवार 31 जुलाई और पांचवा सोमवार 7 अगस्त को है। इस बार के सावन इसीलिए भी खास है क्योंकि इसी दिन भाई-बहन के पवित्र बंधन का त्यौहार रक्षाबंधन भी मनाया जायेगा।

क्या है शुभ मुहूर्त:

विधि-अनुसार शिव उपासना करने से शिवजी प्रसन्न होकर भक्त की हर मनोकामना को पूर्ण करते हैं शिव पूजन के लिए वैसे तो 24 घंटे ही उत्तम है लेकिन शुभ मुहूर्त में की जाने वाली विधि-अनुसार पूजा बहुत ही फलदायी सिद्ध होती है सूर्योदय से पहले किया गया पूजन अत्यंत शुभ फलदाई होता है। महादेव की स्तुति दिन में दो बार करनी चाहिए - सूर्योदय के समय और सूर्यास्त के बाद।


Add Comments

Please note, comments must be approved before they are published